NARCOTICS CONTROL BUREAU
MINISTRY OF HOME AFFAIRS
GOVERNMENT OF INDIA

राष्ट्रीय समन्वय

स्वापक नियंत्रण ब्यूरो एन डी पी एस अधिनियम के अन्तर्गत केन्द्र सरकार की शक्तियों और कृत्यों का निर्वहन करने  के लिए केन्द्रीय प्राधिकरण है।

            स्वापक नियंत्रण ब्यूरो भारत में स्वापक कानून प्रवर्तन से संबंधित मामलों के लिये नोडल एजेंसी है।

स्वापक नियंत्रण ब्यूरो देश में ड्रग कारन प्रवर्तन से संबंधित केन्द्र और राज्य सरकारों की विभिन्न एजेंसियों द्वारा की गई कार्रवाइयों और ड्रग्स के दुरुपयोग से संबंधित मामलों का समन्वय करता है।

विषय

क्या किया जा रहा है

(समन्वय का विशिष्ट विषय)

क्षेत्रीय समन्वय बैठकें - भारत के चार क्षेत्रों में स्वापक नियंत्रण ब्यूरो द्वारा वार्षिक रुप से आयोजित।

 

नशीले पदार्थों के अवैध व्यापार से संबंधित विषयों पर गहराई से चर्चा।

नशीले पदार्थों के अवैध व्यापार को विफल करने के लिए अन्य कानून प्रवर्तन एजेंसियों के साथ विचार विमर्श कर कार्यनीति बनाना।

 

राज्यों के साथ समन्वय

  1. राज्यों का उनकी प्रवर्तन क्षमताओं को सुधारने के लिए वित्तीय सहायता हेतु संस्थागत कार्यतंत्र।
  2.  नशीले पदार्थों की अन्य कानून प्रवर्तन एजेंसियों के लिए प्रशिक्षण मॉड्यूल बनाना और धन एवं  स्रोत व्यक्तियों को उपलब्ध करवाना।
  3.  डी डी किट्स उपलब्ध करवाना ।
  4.  पुरस्कार प्रस्ताव।

मुख्य सचिव के अधीन राज्य स्तरीय समन्वय समिति

 महानिरीक्षक स्तर के अधिकारी की अध्यक्षता में स्वापक पदार्थ रोधी कार्यबल।  स्वापक पदार्थों संबंधी विषयों पर  कार्रवाई करने के लिए 5 वर्षीय कार्य योजना।  

किया जा रहा है।

 

 

उन्नत एवं अधिक विश्वसनीय डी डी किट्स उपलब्ध करवाए जाने की आवश्यकता ।

सभी लंबित पुरस्कार प्रस्तावों को निपटाना।

 

 

स्वापक नियंत्रण ब्यूरो के अधिकारियों द्वारा राज्यों का दौरा।

 

  • महानिदेशक स्वापक नियंत्रण ब्यूरो, उप महानिदेशक नियमित रूप से राज्यों का दौरा करते हैं एवं ड्रग्स से संबन्धित मामलों पर परस्पर कार्रवाई करने के लिए सीएस/डीजीपी एवं अन्य अधिकारियों से मिलते हैं।
  • स्वापक नियंत्रण ब्यूरो के क्षेत्रीय निदेशक राज्यों को प्रदान की गई सहायता के

उपयोग को मॉनीटर करने के लिए उनके लगातार दौरे करते हैं।

 

 

 

 

 

राष्ट्रीय बैठकें

  • सचिव राजस्व की अध्यक्षता में सचिवों की स्वापक पदार्थ समन्वय समितियां। महानिदेशक, स्वापक नियंत्रण ब्यूरो संयोजक हैं।
  • आई एन सी बी को विवरणियाँ प्रस्तुत करने के लिए डीसीजीआइ, एन सी और सी सी एफ के साथ बैठकें।
  • अफीम की अवैध खेती करने वाले 10 राज्यों के नोडल अधिकारियों के साथ बैठक
  • बहु एजेन्सी केन्द्र ( मल्टी एजेन्सी सेंटर, एम ए सी) बैठक।
  • केन्द्रीय आर्थिक आसूचना ब्यूरो ( सी ई आई बी)  बैठक

 

अन्य एजेन्सियों द्वारा आयोजित समन्वय बैठकें।

  • राज्य बहु एजेन्सी समन्वय ( एस एम ए सी) बैठक।
  • क्षेत्रीय आर्थिक आसूचना परिषद् (आर ई आई सी ) बैठक।
  • लीड आसूचना एजेन्सी ( एल आई ए ) बैठक।